Home / Alwar / अलवर के थानागाजी में सामने आया एक और सामूहिक बलात्कार का मामला, युवती का किडनैप कर दरिंदों ने तीन दिन तक किया रेप

अलवर के थानागाजी में सामने आया एक और सामूहिक बलात्कार का मामला, युवती का किडनैप कर दरिंदों ने तीन दिन तक किया रेप

अलवर. अलवर जिले के थानागाजी में गैंग रेप की वीडियो वायरल होने के बाद हडक़ंप मचा हुआ है। अब थानागाजी से एक और सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। इस मामले में बदमाशों ने युवती का अपहरण कर बलात्कार किया। थानागाजी क्षेत्र की एक युवती ने मंगलवार को थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है, युवती ने बताया कि 27 अप्रेल को वो भर्तहरी धाम गई हुई थी। वहां पर उसे कैलाश मीणा व उसके 4-5 साथी मिले। कैलाश ने उसे गन्ने का ज्यूस पिलाया।

ज्यूस पीने के बद उसे चक्कर आने लगे, उसने कैलाश से चक्कर आने की शिकायत की तो कैलाश उसे डॉक्टर को दिखाने के बहाने बोलेरो में बैठाकर ले गया। बोलेरो में विश्राम नाम के युवक के साथ 4-5 युवक और भी थे। इसके बाद वे बेहोश हो गई। जब उसे होश आया तो वो एक कमरे में थी जहां अंधेरा हो रहा था। उस कमरे में विश्राम ने युवती के साथ बलात्कार किया। इसके बाद वो लोग सुबह उसे प्रताप गांव लेकर गए जहां युवकों ने उसे धमकाया और जान से मारने की धमकी दी। युवती ने शिकायत में लिखा कि उस मकान में विश्राम की पत्नी राजकुमारी आई और कहा कि तुझे कैलाश की पत्नी बनकर रहना है नहीं तो तेरे भाई के खिलाफ झूठा मुकदमा दर्ज कराकर फंसा दूंगी। इन सभी लोगों ने युवती को रात में कमरे में बंद रखा और सुबह जयपुर ले गए।

 

वहां पर कैलाश और परमानंद ने उसके साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद अगले दिन सुबह उसे जबरदस्ती कार में बैठाकर अजमेर ले गए। वहां युवती को उसके पिताजी और अन्य लोग मिले और उन्होंने उसेे युवकों के चंगुल से छुड़वाया। युवती ने बताया कि वे इतने दिन डर की वजह से अपने परिजनों को नहीं बता पाई, अब वह रिपोर्ट दर्ज कराने आई है। वहीं पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरु कर दी है।



About admin

Check Also

दिनदहाड़े अपहरण की कोशिश का VIDEO:8-10 बदमाश हथियार लहराते हुए पहुंचे, छोड़ने के लिए सड़क पर ही 2 लाख रुपए मांगे; डराने के लिए 4 राउंड फायर किए

अलवर के नीमराणा के पास औद्योगिक क्षेत्र के माधोसिंहपुरा गांव की फ्रेंड्स कॉलोनी में रविवार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »